Home / Kanpur City / Bikru Kand: Hearing On Remand Of Accused On 12 May – बिकरू कांड: आरोपियों की रिमांड पर सुनवाई 12 मई को
Bikru Kand: Hearing On Remand Of Accused On 12 May – बिकरू कांड: आरोपियों की रिमांड पर सुनवाई 12 मई को

Bikru Kand: Hearing On Remand Of Accused On 12 May – बिकरू कांड: आरोपियों की रिमांड पर सुनवाई 12 मई को

Loading...
Loading...

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, कानपुर
Published by: प्रभापुंज मिश्रा
Updated Fri, 16 Apr 2021 09:55 AM IST

ख़बर सुनें

बिकरू कांड की सुनवाई अब 12 मई को होगी। 14 अप्रैल को कोर्ट में सुनवाई होनी थी लेकिन आंबेडकर जयंती के अवकाश के चलते कोर्ट ने नई तारीख दे दी है। इसमें बिकरू कांड के आरोपियों की रिमांड पर सुनवाई होनी है।

जिला सहायक शासकीय अधिवक्ता आशीष तिवारी ने बताया कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सुनवाई होने की संभावना है। बता दें कि चौबेपुर के बिकरू गांव में दो जुलाई 2020 की रात दुर्दांत हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे व उसके साथियों ने पुलिस टीम पर हमला कर दिया था और फायरिंग कर दी थी। इस घटना में तत्कालीन सीओ बिल्हौर देवेंद्र मिश्रा समेत आठ पुलिसकर्मी शहीद हुए थे। पुलिस ने विकास दुबे, अमर दुबे, प्रभात मिश्रा को एनकाउंटर में मार गिराया था। 

बिकरू कांड में पुलिस ने माती कोर्ट में 36 आरोपियों के खिलाफ करीब 1700 पन्नों की चार्जशीट दाखिल की थी। दो आरोपी अभी फरार हैं। विकास दुबे समेत छह बदमाश मारे जा चुके हैं। चार्जशीट के मुताबिक  घटना को साजिश के तहत अंजाम दिया गया था। दहशतगर्द विकास को पुलिसकर्मियों ने तहरीर पहुंचने से लेकर दबिश रवाना होने तक की जानकारी दी थी।

इसमें चौबेपुर के पूर्व एसओ विनय तिवारी और दरोगा केके शर्मा की मुख्य भूमिका रही। पुलिस ने विवेचना में इन्हीं तथ्यों को शामिल किया है। इससे संबंधित पारिस्थितिजन्य, वैज्ञानिक और फोरेंसिक साक्ष्यों को चार्जशीट में शामिल किया गया है। पुलिस की विवेचना के मुताबिक जब राहुल तिवारी ने विकास दुबे व उसके गुर्गों के खिलाफ पुलिस से शिकायत की थी तभी विकास को सूचना पहुंच गई थी।

बिकरू कांड की सुनवाई अब 12 मई को होगी। 14 अप्रैल को कोर्ट में सुनवाई होनी थी लेकिन आंबेडकर जयंती के अवकाश के चलते कोर्ट ने नई तारीख दे दी है। इसमें बिकरू कांड के आरोपियों की रिमांड पर सुनवाई होनी है।

जिला सहायक शासकीय अधिवक्ता आशीष तिवारी ने बताया कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सुनवाई होने की संभावना है। बता दें कि चौबेपुर के बिकरू गांव में दो जुलाई 2020 की रात दुर्दांत हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे व उसके साथियों ने पुलिस टीम पर हमला कर दिया था और फायरिंग कर दी थी। इस घटना में तत्कालीन सीओ बिल्हौर देवेंद्र मिश्रा समेत आठ पुलिसकर्मी शहीद हुए थे। पुलिस ने विकास दुबे, अमर दुबे, प्रभात मिश्रा को एनकाउंटर में मार गिराया था। 

बिकरू कांड में पुलिस ने माती कोर्ट में 36 आरोपियों के खिलाफ करीब 1700 पन्नों की चार्जशीट दाखिल की थी। दो आरोपी अभी फरार हैं। विकास दुबे समेत छह बदमाश मारे जा चुके हैं। चार्जशीट के मुताबिक  घटना को साजिश के तहत अंजाम दिया गया था। दहशतगर्द विकास को पुलिसकर्मियों ने तहरीर पहुंचने से लेकर दबिश रवाना होने तक की जानकारी दी थी।

इसमें चौबेपुर के पूर्व एसओ विनय तिवारी और दरोगा केके शर्मा की मुख्य भूमिका रही। पुलिस ने विवेचना में इन्हीं तथ्यों को शामिल किया है। इससे संबंधित पारिस्थितिजन्य, वैज्ञानिक और फोरेंसिक साक्ष्यों को चार्जशीट में शामिल किया गया है। पुलिस की विवेचना के मुताबिक जब राहुल तिवारी ने विकास दुबे व उसके गुर्गों के खिलाफ पुलिस से शिकायत की थी तभी विकास को सूचना पहुंच गई थी।


This content is from – Amar Ujala News

About kanpursmartcity

Check Also

Female Constable Committed Suicide In Chitrakoot – चित्रकूट: महिला कांस्टेबल ने फांसी लगाकर दी जान, अब तक सामने आई ये बात

Female Constable Committed Suicide In Chitrakoot – चित्रकूट: महिला कांस्टेबल ने फांसी लगाकर दी जान, अब तक सामने आई ये बात

Loading... Loading... {“_id”:”607a5cce8ebc3e245801d1cc”,”slug”:”female-constable-committed-suicide-in-chitrakoot”,”type”:”story”,”status”:”publish”,”title_hn”:”u091au093fu0924u094du0930u0915u0942u091f: u092eu0939u093fu0932u093e u0915u093eu0902u0938u094du091fu0947u092cu0932 u0928u0947 u092bu093eu0902u0938u0940 u0932u0917u093eu0915u0930 u0926u0940 u091cu093eu0928, u0905u092c u0924u0915 u0938u093eu092eu0928u0947 u0906u0908 u092fu0947 …